आयुर्वेदिक प्रोडक्ट में मिलावट और होने वाली हानि Harmfull effect of Ayurvedic Adulteration

 आयुर्वेदिक प्रोडक्ट में मिलावट और होने वाली हानि :

आयुर्वेदा एक ऐसी पद्धति है जो बीमारी को जड़ से ख़तम कर देता है और उसका कोई साइड इफ़ेक्ट भी नहीं होता। लेकिन आज कल आयुर्वेदा में भी मिलावट होने लगा है।

मिलावटी तत्व :

- पौधे के एक्सट्रेक्ट के साथ केमिकल का मिश्रण - जिससे जल्दी इफ़ेक्ट होता है लेकिन बाद में साइड इफ़ेक्ट होता है।
उदहारण : 

- कमर दर्द में उपयोग होने वाले हर्बल ट्यूब में डिक्लोफेनाक मिला होता है जो की तुरंत तो राहत दे देता है लेकिन बाद में नुक्सान होता है - फ़ास्ट रिलीफ , वोलनी।
आयुर्वेदिक टूथपेस्ट और ठंडा तेल: में थोक मात्रा में कपूर (कैम्फर ) और मेंथोल (पुदीने का तेल) मिला होता



है जो ब्रश करते वक़्त अच्छे और ठन्डे जरूर लगते है लेकिन बाद में नुक्सान पहोंचता है।


- गलत लेबेल्लिंग : आयुर्वेदिक प्रोडक्ट कंपनी बोटैनिकल नाम से लेबेल्लिंग करती है जो आम जनता नहीं समझ पाती। 

- अज्ञानता : कुछ नई और छोटी कंपनी कुसल साइंटिस्ट और इक्विपमेंट के अभाव में नहीं पहचान पाती की वो सही रॉ मटेरियल प्रयोग में लाती है। 

- और कुछ कंपनी रॉ मटेरियल को सही से साफ और प्रयोग में नहीं लती।



 निचे दिये गए लिंक पे क्लिक करे और मिलावट के बारे में विस्तार से पढ़े  और दिए गये विधि से घर पे ही जाँच करें >>














मसाले में मिलावट ( SPICE ADULTERATION )

* दाल में मिलावट ( PULSES ADULTERATION)

*  आटे में मिलावट (ADULTERATION IN FLOURS)

* चावल में मिलावट ( RICE ADULTERATION )

* फल के रस में मिलावट ( JUICE ADULTERATION )

* सब्जी में मिलावट ( VEGETABLE ADULTERATION )
    * जहरीली डाई से रंगी हुई मटर ( Peas colored by Toxic Melachite green )

* नकली अण्डा घर पे जांचे ( FAKE EGGS - CHECK AT HOME )

* माँस में मिलावट 
   ( MEAT & MEAT PRODUCT ADULTERATION )

* केक और बेकरी सामान में मिलावट 
   (ADULTERATION IN CAKE & BAKARY PRODUCTS)

* आचार में मिलावट (Adulteration in Pickle)